Sunday, September 18, 2022

World Accreditation Day 2022 | विश्व प्रत्यायन दिवस 9 जून

World Accreditation Day 2022: विश्व प्रत्यायन दिवस (Vishv Pratyaayan divas) 9 जून को मनाया जाता है। इसे मनाने का उद्देश्य विश्व स्तर पर व्यापार और अर्थव्यवस्था में प्रत्यायन रेखांकित करने और भूमिका को बढ़ावा देने के लिए “विश्व प्रत्यायन दिवस” मनाया जाता है। इसे मनाने की पहल अंतर्राष्ट्रीय प्रत्यायन मंच (International Accreditation Forum) और अंतर्राष्ट्रीय प्रयोगशाला प्रत्यायन सहयोग (International Laboratory Accreditation Cooperation) द्वारा शुरू की गई थी। जानिए क्या है इस वर्ष की थीम? और क्या है विश्व प्रत्यायन दिवस का महत्व और इतिहास?

ये भी पढ़ेः- Test Tube Baby in Hindi | IVF के द्वारा नि:संतानता को है हराना।

World Accreditation Day 2022 (विश्व प्रत्यायन दिवस)

विश्व प्रत्यायन दिवस 9 जून 2022, बृहस्पतिवार को मनाया जायेगा। भारत में, क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया (Quality Council of India) द्वारा यह दिवस मनाया जाता है।

इसके अलावा, भारत में ‘National Accreditation Board for Testing and calibration Laboratories’ और ‘National Accreditation Board for Certification Bodies’ द्वारा वेबिनार भी आयोजित किए जाते हैं।

World Accreditation Day 2022
World Accreditation Day 2022

World Accreditation Day theme 2022

नवंबर 2021 में IAF और ILAC जनरल असेंबली में, संयुक्त कार्य समूह संचार अध्यक्षों ने WAD 2022 के लिए विषय की घोषणा की, प्रत्यायन: आर्थिक विकास और पर्यावरण में स्थिरता (Accreditation: Sustainability in Economic Growth and the Environment.)।

विश्व प्रत्यायन दिवस का महत्व

भारत सरकार ने भारतीय गुणवत्ता परिषद कि स्थापना वर्ष 1997 में की थी। इसे भारतीय संवर्द्धन और आंतरिक विभाग के प्रशासनिक नियंत्रण द्वारा निकाय के तौर पर की गयी। इसका महत्व विश्व स्तर पर व्यापार और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए महत्व दिया जाता है।

FAQ’s

Q. Vishv Pratyaayan divas kab manaya jata hai?

Ans: 9 June

Q. विश्व प्रत्यायन दिवस 2022 की थीम क्या है।

Ans: Accreditation: Sustainability in Economic Growth and the Environment.

ये भी पढ़ेः-

World Brain Tumor day 2022 | जानिए ब्रेन ट्यूमर के लक्षण और उपचार का तरीका

Breast Cancer in Hindi | ब्रेस्ट (स्तन) कैंसर के कारण, लक्षण और उपचार

Thyroid Symptoms in Hindi | जानिए थायराइड के लक्षण, कारण, इलाज, दवा और उपचार

Experienced Content Writer with a demonstrated history of working in the education management industry. Skilled in Analytical Skills, Hindi, Web Content Writing, Strategy, and Training. Strong media and communication professional with a B.sc Maths focused in Communication and Media Studies from Dr. Ram Manohar Lohia Awadh University, Faizabad.

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,485FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles