Sunday, September 25, 2022

Utkal divas 2022 | जानिए ओडिशा का इतिहास, Odisha foundation day in Hindi

Utkal divas 2022 in Hindi: ओडिशा स्थापना दिवस को उत्कल दिवस के नाम से भी जाना जाता है। हर वर्ष 1 अप्रैल को उत्कल दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य लोगों ओडिशा के महत्व के बारे में जागरूक करना, और यहाँ के ऐतिहासिक स्थलों के प्रति लोगों को आकर्षित करना है।

Read Also:- Kavita Bhabhi | कविता भाभी ने दिये ऐसे सीन्स रातों-रातों हुई फेमस

Utkal divas 2022 (उत्कल दिवस)

हर वर्ष 1 अप्रैल को ओडिशा के लोगों द्वारा उत्कल दिवस या ओडिशा स्थापना दिवस मनाया जाता है। इस दिन विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। देश-विदेश के लोग इस दिवस का आनंद लेने के लिए ओडिशा आते है। यह दिवस विश्व स्तर पर भी काफी प्रसिद्ध है। भारत के जिस कोने में ओड़िशा के लोग रहते है वहां भी बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है।

इस वर्ष 2022 को उत्कल दिवस 1 अप्रैल दिन शुक्रवार को मनाया जायेगा। इस दिवस ओडिशा में विशेष इंतजाम किये जाते है।

ओडिशा राज्य की स्थापना 1 अप्रैल 1936 को ब्रिटिश सरकार द्वारा की गयी थी। ब्रिटिश सरकार ने 1 अप्रैल 1936 में इसे एक प्रांत के रूप में स्थापित किया था। ब्रिटिश सरकार द्वारा इसका नाम उड़ीसा दिया गया था। 4 नवम्बर 2011 में इसका नाम बदल कर ओडिशा कर दिया गया।

Utkal divas History in Hindi (उत्कल दिवस का इतिहास)

उड़ीसा राज्य पर सबसे पहले कलिंग राजाओं का शासन था जिस 261 ईसा पूर्व में मौर्य साम्राज्य के महान शासक सम्राट अशोक ने कलिंग पर कब्जा कर लिया। 8वीं शताब्दी में ओडिशा को कोसल और उत्कल राज्य के नाम से जाना जाता था।

Utkal divas 2022
Utkal divas 2022

16वीं शताब्दी में बंगाल के नवाब ने उड़ीसा पर कब्जा कर लिया था। और बंगाल रियासत के अधीन हो गया था। 18वीं शताब्दी में उड़ीसा मराठा शासन के अधीन था। कर्नाटक के युद्ध के बाद अंग्रेजों ने मद्रास प्रेसीडेंसी में मिला लिया था।

1 अप्रैल 1936 में अंग्रेजों द्वारा एक नये राज्य की स्थापना की गयी। और इस राज्य का नाम उड़ीसा रखा क्योंकि इस नये राज्य के अधिकांश नागरिक ओड़िआ भाषी थे। राज्य में 1 अप्रैल को उत्कल दिवस या ओड़िशा दिवस मनाया जाता है।

4 नवम्बर 2011 को उड़ीसा का नाम बदलकर ओडिशा कर दिया गया।

ओडिशा में धार्मिक स्थल या पर्यटन स्थल

ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर है। ओडिशा कई लोकप्रिय पर्यटन स्थलों का घर है, जिसमें पुरी, कोणार्क और भुवनेश्वर सबसे प्रमुख हैं और इसे पूर्वी भारत का स्वर्ण त्रिभुज कहा जाता है। पुरी के जगन्नाथ मंदिर जिसकी रथ यात्रा विश्व प्रसिद्ध है और कोणार्क का सूर्य मंदिर देखने के लिए हर साल लाखों पर्यटक आते हैं।

FAQ’s

Q. उत्कल दिवस किसे कहा जाता है?

Ans : ओड़िशा दिवस को कहा जाता है।

Q. ओडिशा दिवस कब मनाया जाता है?

Ans : 1 April

Q. ओडिशा राज्य की स्थापना कब हुई थी?

Ans : 1 April 1936

Q. Odisha Diwas 2022 kab hai?

Ans : 1 April 2022

Read Also:-

April Fool’s Day 2022 | जानिए क्यों मनाया जाता है, 1st अप्रैल को अप्रैल फूल डे, जानिए किस्से।

Rajasthan Diwas 2022 | Rajasthan Diwas kab manaya jata hai , क्या है राजस्थान का इतिहास और कब हुई थी स्थापना

Yogi Minister’s list 2022 | योगी ने लगातार दूसरी बार ली मुख्यमंत्री पद की, केशव प्रसाद मौर्य और बृजेश पाठन ने ली उप मुख्यमंत्री की शपथ

Experienced Content Writer with a demonstrated history of working in the education management industry. Skilled in Analytical Skills, Hindi, Web Content Writing, Strategy, and Training. Strong media and communication professional with a B.sc Maths focused in Communication and Media Studies from Dr. Ram Manohar Lohia Awadh University, Faizabad.

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,499FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles