Monday, September 19, 2022

World Forestry day in Hindi | जानिए कैसे हुई 21 मार्च को विश्व वानिकी दिवस की शुरुआत और थीम

World Forestry day in Hindi: जंगलों और पेड़ों के प्रति जागरूक करने के लिए हर वर्ष अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, 21 मार्च को विश्व वानिकी दिवस मनाया जाता है। ताकि जंगलों को न कटा जाये। जिस प्रकार 20वीं और 21वीं सदी में वनों या जंगलों का दोहन किया गया है। इससे विश्व स्तर पर वनों के क्षेत्रफल में गिरावट आयी है।

Read Also:- Sirisha Bandla Biography in hindi, Parents, Husband, सिरीशा बंदला की आत्मकथा

World Forestry day in Hindi (विश्व वानिकी दिवस 2022)

हर वर्ष 21 मार्च को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विश्व वानिकी दिवस मनाया जाता है। पहली बार इसकी शुरुआत सन् 1971 में की गयी। भारत में यह उत्सव सन् 1950 से मनाया जा रहा है। भारत में इसकी शुरुआत तात्कालिक गृहमंत्री कुलपति कन्हैयालाल माणिकलाल मुंशी ने किया था।

जंगल बनाए रखने के लिए सन् 1971 में यूरोपीय कृषि संगठन ने 23वीं आम बैठक में विश्व वानिकी दिवस मनाने की घोषणा की। बाद में संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन ने पेड़ों के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए 21 मार्च को अपनी सहमति दी। तभी से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विश्व वानिकी दिवस मनाने की शुरुआत हुई।

वानिकी के 3 महत्वपूर्ण तत्वों- सुरक्षा, उत्पादन और वन विहार के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए विश्व वानिकी दिवस मनाया जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार जंगल एक ऐसा जीवित समुदाय है जिसमें जीव-जन्तु, पेड़-पौधे और कीट-पतंगें एक-दूसरे पर निर्भर रहते है।

वन रिपोर्ट के मुताबिक पिछले कुछ दशक से मनुष्य अपनी लालच की पूर्ति के लिए वनों की अंधाधुंध कटाई कर रहा है। जिससे ग्लोबल वार्मिंग, वायु प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण, बर्फ का पिघलना जैसी खतरनाक आपदाएं शुरु हुई है।

पृथ्वी को इस घोर संकट से बचाने के लिए अगर हर व्यक्ति 1-1 पेड़ लगाये तो पृथ्वी को हरा-भरा बनाया जा सकता है।

World Forestry day Theme 2022 (विश्व वानिकी दिवस 2022 की थीम)

वनों पर सहयोगात्मक भागीदारी द्वारा प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय वानिकी दिवस की थीम का चयन किया जाता है। 2022 का विषय “वन और सतत उत्पादन और खपत” (“Forests and sustainable production and consumption.”) है।

World Forestry day in Hindi
World Forestry day in Hindi

विश्व वानिकी दिवस का महत्व

हमारे जीवन में पेड़ का बहुत महत्व है। किसी व्यक्ति को जीवित रहने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत होती है। जो हमें पेड़ों से प्राप्त होती है। जिस प्रकार पेड़ों की अंधाधुंध कटाई से इसकी संख्या धीरे-धीरे कम होती जा रही है। वर्तमान समय में कार्बन डाई ऑक्साइड, कार्बन मोनो ऑक्साइड, सीएफसी जैसी खतरनाक जहरीली गैस को सोखकर धरती पर रह रहे असंख्य जीवधारी को प्राण वायु ऑक्सीजन देने वाले जंगल खुद खत्म होते जा रहे है।

धरती को इस घोर संकट से बचाने के लिए दुनिया का हर व्यक्ति एक-एक पेड़ लगाये तो पृथ्वी को पुनः हरा-भरा कर सकता है। वन मानव जीवन को आसान बनाता है। इसीलिए मानव जीवन के लिए वन महत्व को दर्शाता है। विशेषज्ञों का दावा है कि वन के बिना जीवन की कल्पना करना बेबुनियाद है। ऐसे में वन के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए सरकार को कई तरह की योजना लागू करना चाहिए, क्योंकि वन और जल है तो कल सुरक्षित है। जीवन में वन और जल बहुत जरूरी है। ऐसे में वन कर्ताओं को इसके प्रति सजग करना और इसके महत्व को लोगों तक पहुँचाना है।

FAQ’s

Q. विश्व वानिकी दिवस कब मनाया जाता है?

Ans : 21 मार्च

Q. विश्व वानिकी दिवस 2022 की थीम क्या है?

Ans: “वन और सतत उत्पादन और खपत” (“Forests and sustainable production and consumption.”)

Read Also:-

Bihar day 2022 in Hindi | बिहार 110वां स्थापना दिवस मनाया रहा है। जानिए क्या है बिहार का इतिहास

World Indigenous day in Hindi | विश्व आदिवासी दिवस | जानिए इस वर्ष की थीम क्या है?

World Oral Health day 2022 | जानिए वर्ल्ड ओरल हेल्थ डे का इतिहास, महत्व और थीम

Experienced Content Writer with a demonstrated history of working in the education management industry. Skilled in Analytical Skills, Hindi, Web Content Writing, Strategy, and Training. Strong media and communication professional with a B.sc Maths focused in Communication and Media Studies from Dr. Ram Manohar Lohia Awadh University, Faizabad.

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,485FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles