Sunday, November 28, 2021

Tokyo Olympic Man Hockey live 2021|भारत ने जर्मनी को हराकर जीता कांस्य पदक

भारत ने 41 साल बाद रचा इतिहास जर्मनी को पराजित कर कांस्य पदक अपने नाम किया। भारतीय टीम का प्रदर्शन पूरी श्रृखा में काफी अच्छा रहा है। जर्मनी को 5-4 से पराजित कर कांस्य पदक जीता।

Tokyo Olympic Man Hockey live 2021 टोक्यो ओलम्पिक के 13वें दिन भारत के नाम रहा, भारत की ओर से रेस्लिंग , कुश्ती, और भाला फेंक में भारत ने फाइनल में जगह बनायी। टोक्यो ओलम्पिक के 14वें दिन भारत की कुश्ती के लिए आज बड़ा दिन है, रेसलर रवि दहिया आज गोल्ड मेंडल के लिए अपना मुकाबला खेलेगें, रवि दहिया सिल्वर मेडल पक्का कर चुके है। भारत अबतक टोक्यो ओलम्पिक 2020 में 3 मेडल जीत चुका है।

Tokyo Olympic Man Hockey live 2021

1st क्वार्टर

शुरुआत भारत के लिए अच्छी नहीं रही, जर्मनी ने पहले मिनट में ही एक गोल कर आगे हो गया। भारत को 5वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन रुपेन्द्र पाल सिंह गोल नहीं कर सके। और इस प्रकार जर्मनी पहले क्वार्टर में 1-0 से बढ़त बना ली। (Tokyo Olympic Man Hockey live 2021)

2nd क्वार्टर

(Tokyo Olympic Man Hockey live 2021) दूसरा क्वार्टर की शुरुआत में दोनों टीमें आक्रामक खेल शुरु किया। भारत को 22वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला, और सीमरनजीत ने इसे गोल में बदल दिया। और दोनों टीमें 1-1 से बराबर हो गयी। किन्तु अगले 22वें मिनट में जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला, जर्मनी ने इसे गोल में बदल दिया। जिससे जर्मनी 2-1 से आगे हो गयी।

25वें मिनट में जर्मनी को फिर एक पेनल्टी कॉर्नर मिला, इस मौके को भी भुना लिया, और जर्मनी 3-1 से आगे हो गयी। किन्तु मध्यान्त का अन्तिम 5 मिनट भारत के नाम रहा, भारत ने 26वें में पेनल्टी कॉर्नर मिला और हरदीप सिंह ने इसे गोल में बदल दिया। भारत को 29वें मिनट में भी पेनल्टी कॉर्नर मिला इसे उपेन्द्र सिंह ने एक गोल कर 3-3 से बराबर हो गये।

3rd क्वार्टर

Tokyo Olympic Man Hockey live 2021
Tokyo Olympic Man Hockey live 2021

तीसरा क्वार्टर भारत के नाम रहा। पहले मिनट में भारत को पेनल्टी कॉर्नर मिला और उपेन्द्र पाल ने इसे गोल में बदल दिया। इस प्रकार भारत 4-3 से आगे हो गया। चौथेवें मिनट में भारत को पेनल्टी कॉर्नर मिला, सीमरन जीत ने इसे गोल में बदल दिया और इस प्रकार भारत 5-3 से बढ़त बना ली। 41वें में जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला जिसे गोल में तबदील नहीं कर सके। इस प्रकार भारत तीसरे क्वार्टर में 5-3 से बढ़त ले ली।

4th क्वार्टर

जर्मनी को चौथेवें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला और जर्मनी ने इस गोल में बदल दिया इस प्रकार जर्मनी 4-5 से पीछे चल रही है। 54वें मिनट में जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला, गोल नहीं कर सकी। 57वें मिनट में जर्मनी को पेनल्टी कॉर्नर मिला, गोल नहीं कर सकी।

57वें मिनट में जर्मनी को दिया गया। जर्मनी ने ये मौका नहीं बना सकी। 59.29वें मिनट में जर्मनी के एक पेनल्टी कॉर्नर मिला सभी भारतीय प्रेमी के दिल की धड़कने रुक गयी थी। लेकिन जर्मनी ने गोल नहीं कर पायी। इस प्रकार भारत ने जर्मनी को 5-4 से हराकर कांस्य पदकअपने नाम किया।

41 वर्ष बाद भारत ने रचा इतिहास

भारत ने टोक्यो ओलम्पिक में काफी अच्छा प्रदर्शन किया। भारतीय पुरुष हॉकी टीम सेमीफाइनल तक का सफर तय किया। किन्तु भारत को सेमीफाइनल में बेल्जियम ने 5-2 से पराजित किया। सेमीफाइनल में पराजय के बाद भारत को कांस्य पदक जीतने के लिए जर्मनी से मुकाबला हुआ।

भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही, जर्मनी ने पहले मिनट में ही एक गोल करके 1-0 से आगे हो गयी।

लेकिन दूसरा और तीसरा क्वार्टर भारत के नाम रहा भारत ने तीसरे क्वार्टर तक 5-3 की बढ़त बना चुका था।

भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत कौर और सभी भारतीय टीम को कांस्य जीतने की बधाई। जीत के भारतीय खिलाड़ियों में खुशी के आंसू नहीं रुके। और मैदान पर ही सभी लोग एक दूसरे को बधाई दी।

FAQ’s

Q. भारतीय हॉकी टीम के कप्तान कौन है?

Ans: भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत कौर है। जिनकी कप्तानी में भारत ने टोक्यो ओलम्पिक 2020 में कांस्य पदक जीता।

Read Also :-

Tokyo Olympic Javelin Throw भाला फेक के फाइनल में नीरज चोपड़ा ने जगह बना ली है।

Tokyo Olympic 2020 | छोरियां छोरों से कम है क्या

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,029FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles