Home ट्रेंडिंग न्यूज़ Serang Certificate kya hai | इसे कैसे तैयार किया जाता है। Serang...

Serang Certificate kya hai | इसे कैसे तैयार किया जाता है। Serang Certificate kya hota hai

Serang Certificate kya hai
Serang Certificate kya hai

Serang Certificate kya hai: दोस्तों अगर आप Serang Certificate के बारे में जानना चाहते है तो इस पोस्ट को ध्यान से पूरा पढ़े। क्योंकि हम इस पोस्ट में बतायेंगे कि Serang Certificate क्या होता है? इसकी जरूरत क्या है? इसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है? इसे बनाने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता होती है। और कैसे बन सकता है Serang Certificate?

ये भी पढ़ेः- Test Tube Baby in Hindi | IVF के द्वारा नि:संतानता को है हराना।

Serang Certificate kya hai (सेरंग सर्टिफिकेट)

Serang Certificate का मीनिंग कुछ खास नहीं होता है। इस Water Border Security Force (BSF) कहा जाता है। इनका काम समुद्र में सुरक्षा प्रदान करना होता है। जो Director of Inland Water Transport द्वारा उपलब्ध कराया जाता है। आगे हम आपको इसके लिए क्या Required Documents और Eligibility क्या होने चाहिए।

जिस प्रकार हमें कार, मोटर साइकिल जैसे वाहन चलना के लिए Driving License की आवश्यकता पड़ती है। उसके बाद हमें वह नौकरी दी जाती है। इसी प्रकार जब हमें बीएसएफ की नौकरी की जरूरत होती है तो हमें Serang Certificate की जरूरत पड़ती है।

Serang Certificate kya hai: बॉर्डर सिक्योरिटी की नौकरी के लिए जिस प्रकार आप बॉर्डर का ज्ञान होना चाहिए, उसी प्रकार आपको समुद्र और नदियों के बॉर्डर की जानकारी के लिए Serang Certificate की आवश्यकता होती है। (Serang Certificate kya hota hai in Hindi)

Serang Certificate के लिए योग्यता

1. कम से कम मेट्रिक (10वीं) की परीक्षा पास हो।
2. 21 वर्ष से कम उम्र होनी चाहिए।
3. आँखों का विजन 6/6 होना चाहिए। तथा प्राथमिक रंगों का ज्ञान होना चाहिए।
4. 113-265 बीएचपी (bhp) (horsepower) वाली पानी की जहाज चलाने का कम से कम 2 वर्ष का अनुभव हो।

Serang Certificate के लिए इन सभी मानकों का पूरा होना आवश्यक है। तब जाकर आपको Serang Certificate दिया जाता है।

Serang Certificate Serang Certificate kya hai | इसे कैसे तैयार किया जाता है। Serang Certificate kya hota hai
Serang Certificate kya hai

Serang Certificate in Hindi के लिए डॉक्यूमेंट और बनाने की प्रकिया

1. कम से कम 2 वर्ष का नदी या समुद्र सेवा का प्रमाण पत्र हो,
2. जाति प्रमाण पत्र
3. आय प्रमाण पत्र
4. निवास प्रमाण पत्र
5. 10वीं पास सार्टिफिकेट
6. पहचान प्रमाण पत्र, Voter Id, Aadhar Card, PAN Card.
7. स्कूल छोड़ने का चरित्र प्रमाण पत्र
8. पासपोर्ट साइज फोटो
9. तैराकी का प्रमाण पत्र

Serang Certificate बनाने के लिए आपको Director of Inland Water Transport पर एक फार्म जमा करना होगा जिसकी कीमत 100 रुपये है। जब आप IWT को Serang Certificate के लिए आवेदन देंगे तो आप को इसके साथ आवश्यक डॉक्यूमेंट लगाना होगा। (Serang Certificate kya hai)

  • इसके अलावा आप किसी झील या स्वमिंग पुल के डॉरेक्टर से बनावा सकते हो।
  • इसके अलावा दिये गये लिंक पर जाकर स्वयं फॉर्म भर कर serang certificate प्राप्त कर सकते है। इसके लिए दिये गये लिंक पर क्लिक करें।

serang certificate online apply

इस ऐप को डाउनलोड कर आप लेटर तैयार कर सकते है। इसके लिए आप को अपना नाम, ईमेल आईडी, फोन न. कम्पनी नाम, और लोगों की जरूरत होती है। इसके कम्पनी के Head Office की हस्तक्षर की जरूरत होती है।

तैराकी का प्रमाण पत्र

Serang Certificate के लिए आप को तैराकी का प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ती है। यह सार्टिफिकेट किसी भी प्रामाणित संस्था जो भारत सरकार के पोर्टल पर रजिस्टर है। वहाँ से तैराकी का प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते है।

Serang Certificate in Hindi प्राप्त करने में लगने वाला समय

Serang Certificate का आवेदन करने के बाद 30 दिनों का समय लग सकता है। यह प्रक्रिया और भी जल्दी पूरी हो सकती है। यह अलग-अलग परिस्थितियों पर निर्भर करता है।

FAQ’s

Q. Serang Certificate kya h?

Ans: Serang Certificate एक प्रकार का समुद्री जहाज चलाने का अनुभव सार्टिफिकेट है।

Q. Serang Certificate का मतलब क्या होता है।

Ans: Serang Certificate एक प्रकार का जहाज चलाने वाला सार्टिफिकेट, समुद्री और नदियों के मार्ग जानने का अनुभव सार्टिफिकेट है।

conclusion:- मैं आशा करता हूँ कि मेरे द्वारा दी गयी जानकारी आप को समझ आ गयी होगी कि Serang Certificate क्या है। इसे कैसे प्राप्त किया जा सकता है। Serang Certificate बनाने के लिए कौन-सा डॉक्यूमेंट की जरूरत होती है।

Read Also:-

World Brain Tumor day 2022 | जानिए ब्रेन ट्यूमर के लक्षण और उपचार का तरीका

Facebook Page Par followers kaise badhaye | फेसबुक पर फॉलोअर्स बढ़ाने के 5 तरीके।

Breast Cancer in Hindi | ब्रेस्ट (स्तन) कैंसर के कारण, लक्षण और उपचार

NO COMMENTS

Leave a Reply