Sunday, November 28, 2021

Zika Virus kya hai | Maharashtra में मिला Zika Virus का पहला केस

Zika Virus kya hai:- जीका वाइरस से लोगों के शरीर में बुखार फैलने लगता है। यह एक खतर नाक वाइरस है। यह सबसे पहले 1947 में युगांडी में बंदरों में पाया गया था उसके बाद यह संयुक्त गणराज्य तंजानिया में मनुष्यों में पाया गया। 1952 तक पूरी तरह मनुष्यों में पाया गया।

Maharashtra में मिला Zika Virus का पहला केस

महाराष्ट्र में जीका वायरस का पहला मामला सामने आया है। इसके पहले केरल में कुछ मामले देखे जा चुके है। महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग ने प्रेस को दिए जानकारी में कहा कि पुरंदर तहसील के बेलसर गांव में जीका वायरस से संक्रमित मरीज का पता चला है। 

पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में ब्लड टेस्ट के दौरान 50 वर्षीय महिला के ज़ीका वायरस से संक्रमित होने का मामला सामने आया है। यह महाराष्ट्र में पाया जाने वाला ज़ीका वायरस का पहला मरीज है। संक्रमित महिला को पहले चिकनगुनिया था लकिन इलाज होने पर महिला ठीक हो चुकी है। और अब महिला में कोई भी जीका वायरस के लक्षण नहीं है।

एनआईवी की टीम ने 27 से 29 जुलाई के बीच बेलसर और परिन्चे गांव का दौरा किया और 41 संदिग्ध मरीजों के रक्त के नमूने लिए गए थे । इनमें से 25 में चिकनगुनिया, तीन में डेंगू और एक जीका वायरस पाया गया।

Zika virus india

केरल के तिरुवनंतपुरम जिले में गुरुवार को जीका वायरस के कुल 13 मामले सामने आए। एकत्र किए गए नमूनों को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे भेजा गया था।

Zika virus origin

जीका वाइरस का मुख्य वाहक एडीज मच्छर है जिसके द्वारा बहुत तेजी से फैलता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार यह मच्छर पूरा दिन सक्रिय रहता है। पहली बार इसकी पहचान 1947 को युगांडा में बंदरों में पाया गया 1952 में यह यूगांडा और संयुक्त गणराज्य तंजानिया में मनुष्यों में फैल गया। हाल ही में यह वायरस एशिया, अफ्रीका, अमेरिका और प्रशांत द्वीपों में जीका वायरस फैल चुका है।

गुरुवार को यह वायरस भारत के केरल राज्य के तिरुवनंतपुरम जिले में कुछ मामले पाये गये।

Zika virus and pregnancy

यह वायरस इतना ज्यादा खतरनाक होता है कि यदि किसी गर्भवाती महिला को हो जाये तो उसके पेट में पल रहे बच्चे को भी बुखार हो सकता है।2015 में यह वायरस ब्राजील में बड़े पैमाने पर हुआ था।

Zika virus symptoms जीका वायरस के लक्षण

जीका वायरस की सक्रिय होने की अवधि 3 से 14 दिनों के बीच होती है, और इससे संक्रमित अधिकांश लोगों में कोई वास्तविक लक्षण विकसित नहीं होते हैं। कुछ व्यक्तियों द्वारा प्रदर्शित कुछ हल्के लक्षणों में बुखार, शरीर पर चकत्ते, सिरदर्द, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द आदि शामिल हैं। जीका वायरस को गुइलेन-बैरे सिंड्रोम, न्यूरोपैथी और मायलाइटिस को ट्रिगर करने के लिए भी जाना जाता है, खासकर वयस्कों और बच्चों में ज्यादा प्रभावित है।

Zika virus treatment उपाय

जीका वायरस से पीड़ित व्यक्ति से यौन संबंध नहीं बनाना चाहिए। जो व्यक्ति प्रभावित क्षेत्र से यात्रा करके वापस आया हो तो उसके साथ यौन संबंध न बनाये। 2 महीने सेक्स से बचना चाहिए । यदि बनाये तो कंडोम का प्रयोग करें।

Zika Virus kya hai

स्थिर जल संचय को रोकें
• फूलों के लदान में पानी को सप्ताह में एक बार बदलें
• फूलदान के नीचे तश्तरी का उपयोग करने से बचें
• पानी के बर्तन को कसकर बंद कर दें
• सुनिश्चित करें कि एयर-कंडीशनर चिप्स पानी से मुक्त हैं
• इस्तेमाल किए गए सभी डिब्बे और बोतलों को एक ढके हुए कूड़ेदान में फेंक दें

  1. नियंत्रण सदिशों और रोगों का संग्रह
    • भोजन का भंडारण करें और कचरे का उचित निपटान करें
    मच्छरों के प्रजनन के नियंत्रण और रोकथाम के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया

इसे भी पढ़ेः- Zomato IPO in Hindi: सेबी में लिस्ट होगा ज़ोमैटो आईपीओ

इसे भी पढ़ेः- Koo App kya hai | कू ऐप क्या है?

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,029FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles