Sunday, November 28, 2021

Tokyo Olympics Chak de india : भारत की बेटी ने रचा इतिहास पहली बार महिला हॉकी टीम सेमीफाइनल में पहुंची

Tokyo Olympics Chak de india भारतीय महिला टीम ने रचा इतिहास पहली बार क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हरा कर सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली है।

2 अगस्त को खेले गये मुकाबले में शुरु में तो ऑस्ट्रेलिया टीम भारी पड़ रही थी किन्तु कोई गोल नहीं कर सकी।

भारतीय महिला टीम ने यादगार प्रदर्शन करते हुए क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हरा कर पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनायी है। भारतीय महिला हॉकी टीम पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनायी है। क्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से मात दी। भारतीय गोल कीपर सविता पुनिया रही, जिन्होंने 9 गोल बचाये।

22 मिनट के बाद भारतीय टीम ने 1-0 से बढ़त बना ली, यह गोल गुरजीत कौर ने पेनल्टी कॉर्नर में की। अब सेमी फाइनल में भारत का मुकाबला 4 अगस्त को अर्जेंटीना से होगा। जिन्होंने जर्मनी को 3-0 से हराकर सेमी फाइनल में जगह बनायी है।

Tokyo Olympics Chak de india

भारतीय पुरुष हॉकी टीम पहली ही सेमी फाइनल में जगह बना चुकी है।

क्वार्टर फाइनल के पहले सेट में भारतीय टीम ने कुछ बेहतरीन मौके बनाये, किन्तु उसे गोल में तबदील नहीं कर सकी। 9 मिनट में वन्दना कटारिया ने जोर से शॉट पोस्ट किया किन्तु वह बाहर निकल गयी। ऑस्ट्रेलिया को गोल करने का मौका था किन्तु भारतीय रक्षा कवच को भेद नहीं सकी।

क्वार्टर फाइनल के दूसरे सेट के पांच मिनट तक ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी रहा, इस दौरान ऑस्ट्रेलिया को तीन पेनल्टी कॉर्नर मिले थे। लेकिन इसे गोल में नहीं बदल सकी। वहीं भारतीय टीम को 22 वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला जिसे गुरजीत कौर ने गोल में बदल दिया और भारतीय महिला टीम 1-0 से बढ़त बना ली।

तीसरे और चौथे सेट में ऑस्ट्रेलिया को कुल 6 पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन भारतीय सुरक्षा कवच को तोड़ नहीं सके। इस लिए एक बार फिर नाकाम रहे। 43 वें और 44 वें मिनट भारत को गोल करने का मौका मिला था लेकिन नवजीत कौर और रानी राम पाल इस मौके को भुना नहीं पायी।

1980 में मॉस्को में खेल गये ओलम्पिक में भारतीय महिला हॉकी टीम छः टीमों में चौथे नम्बर थी। 40 साल लम्बे समय बाद भारतीय महिला हॉकी टीम चौथे स्थान पर पहुंची है। सेमीफाइलन में अर्जेंटीना को हराने के बाद भारत एक पदक पक्का हो सकता है।

टोक्यो ओलम्पिक में हॉकी की दो ग्रुपों में बांटा गया है ग्रुप ए में भारत, नीदरलैंड, जर्मनी, ब्रिटेन, आयरलैंड और साउथ अफ्रीका को रखा गया था। ग्रुप बी में ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, न्यूजीलैंड, जापान, चीन और स्पेन की टीमें शामिल है। दोनों ग्रुप की चार-चार टीम क्वार्टर फाइनल में पहुंची। भारतीय टीम दो मैच जीत कर और तीन मैच हार कर चौथे स्थान पर रही।

भारत का सेमीफाइनल में पहुंचने का सबसे बड़ा श्रेय ब्रिटेन के पुल-ए में अर्जेंटीना को 2-0 से हार कर बाहर हो गयी और भारतीय महिला हॉकी टीम को सेमी फाइनल का टिकट मिल गया।

World Indigenous day in Hindi | विश्व आदिवासी दिवस

Kamalpreet Kaur Olympics 2021 में कर दिया कमाल

National Handloom Day 2021 | राष्ट्रीय हथकरघा दिवस

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,029FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles