e-RUPI kya hai|e-RUPI 2021 in Hindi

e-Rupi kya hai|e-Rupi in Hindi प्रधान मंत्री ने 2 अगस्त 2021 को e-Rupi नामक एक आभासी मुद्रा (Digital Currency) लॉन्च किया। यह Digital Currency बिटक्वाइन्स (Bitcoin) जैस नहीं है। तो कैसे है। दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से यह जानने का प्रयास करेंगे।

e-Rupi kya hai(e-Rupi in Hindi)

2 अगस्त को भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एक Digital Payment Solution e-RUPI को लॉन्च कर दिया है।इसे National Payment Corporation of India (NPCI) द्वारा रेगुलेट या संचालन किया जायेगा। यह Google pay, phonepe, paytm, airtel pay जैसे Digital Payment ऐप नहीं है। यह इन सबसे अलग है। इन सभी Digital Payment को चलाने के लिए एक ऐप और इन्टरनेट की आवश्यकता होती है, किन्तु e-RUPI के लिए किसी ऐप और इन्टरनेट की जरूरत नहीं है। तो कैसे काम करेंगा।

e-Rupi in Hindi
e-Rupi in Hindi

Digital Payment Solution e-RUPI के लिए एक QR Code दिया जायेगा। जिसे सरकारी या प्राइवेट बैंकों द्वारा जारी किया जायेगा। बैंक इस QR Code तीन कॉपी बनायेगी। एक कॉपी अपने पास रखेगी। दूसरी कॉपी उपभोगता (consumer) को दिया जायेगा। तीसरी और अन्तिम कॉपी उस संस्था को दिया जायेगा। जिसके लिए यह जारी किया गया। यह सिस्टम पर्सन-स्पेशिफिक और पर्पज स्पेशिफिक होगा।

भारत सरकार भ्रष्टाचार को कम करने के लिए इस Digital Payment Solution e-RUPI ला रही है। इस हम e-voucher कहते है। यह वही e-voucher जो सरकारी या प्राइवेट बैंकों द्वारा जारी किया जायेगा। इसमें उपभोगता के पास रजिस्टर मोबाइल नम्बर एक SMS या QR code भेज दिया जायेगा। दूसरा QR code संबंधित संस्था के पास भेज दिया जायेगा।

कैसे काम करेगा? e-Rupi kya hai (e-Rupi in Hindi)

जैसा कि आप जानते है कि भारत के पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गांधी जी ने अपने एक भाषण में कहा था यदि किसी गरीब को सरकार की ओर से 100 रुपये भेजा जाता है तो उस गरीब व्यक्ति को मात्र 55 रुपये ही प्राप्त होते है। और जो पैसा गरीबों के पास पहुंचा उसे जिस काम के लिए दिया गया था, उसे उस काम के लिए नहीं प्रयोग में लाया गया। इसी समस्या को दूर करने के लिए वर्तमान प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने Digital Payment Solution e-RUPI को लॉन्च किया है।

उदाहरण

जैसे सरकार द्वारा जनता को वैक्सीन को लिए 1000 रुपया का QR code दिया गया है तो उस उसी काम के लिए प्रयोग किया जायेगा। अन्य काम के लिए नहीं कर सकते है।

सरकार ने किसानों को अर्गनिक खाद के लिए 1000 रुपये का QR code दिया गया। अगर किसान सोचे कि इस रुपये का प्रयोग दवा के लिए कर तो जैसे वह दवा के दुकान पर जायेगा यह QR code मान्य नहीं होगा क्योंकि जो इसकी दूसरी कॉपी है उस अर्गनिक खाद की दुकान पर ही दिया गया है अन्यथा वह इस रुपये से केवल खाद ही खरीद सकता है। अन्य कोई वस्तु नहीं खरीद सकता है।

FAQ’s

Q. e-Rupi kya hai ?

Ans: यह एक Digital Currency है।

Q. e-Rupi कौन रेगुलेट करेंगा?

Ans: National Payment Corporation of India (NPCI) द्वारा रेगुलेट या संचालन किया जायेगा।

Q. e-Rupi किसने लॉन्च किया?

Ans: e-Rupi भारतीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा लॉन्च किया गया।

Q. e-Rupi कब शुरु किया गया?

Ans: 2 अगस्त 2021 को शुरु किया गया।

Read Also:-

Tokyo Olympics 2020|भारत की गोल्ड-सिल्वर की उम्मीद खत्म, कांस्य पदक की उम्मीद

Tokyo Olympic Women Hockey live 2020|भारतीय महिला हॉकी टीम कांस्य पदक से चुकी

Experienced Content Writer with a demonstrated history of working in the education management industry. Skilled in Analytical Skills, Hindi, Web Content Writing, Strategy, and Training. Strong media and communication professional with a B.sc Maths focused in Communication and Media Studies from Dr. Ram Manohar Lohia Awadh University, Faizabad.

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,333FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles