National Girl Child day in Hindi | क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय बालिका दिवस, 2022

National Girl Child day in Hindi: हर वर्ष 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने का उद्देश्य लोगों बालिकाओं और शिशुओं प्रति जागरूक करना है। बालिका दिवस मनाने की पूरी जानकारी के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़े।

Read Also:- Indian army day 2022 in Hindi | Indian army day 2022 date,

National Girl Child day in Hindi (राष्ट्रीय बालिका दिवस 2022)

देश की बालिका शिशु के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर वर्ष 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है। इस राष्ट्रीय बालिका शिशु दिवस भी कहा जाता है। इस मनाने का उद्देश्य देश में बालिकाओं के प्रति असमानताओं को दूर करने तथा लोगों को जागरूक करने लिए इस मनाया जाता है।

बालिका शिशु के साथ काफी भेद-भाव है। जैसे शिक्षा में असमानता, पोषण, कानूनी अधिकार, चिकित्सीय देख-रेख, सुरक्षा, सम्मान, बाल विवाह आदि।

राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी 2022, रविवार को मनाया जायेगा।

सरकार द्वारा साल 2015 में “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” अभियान काफी सफल रहा है। इस अभियान के जरिए लड़कियों और महिलाओं से जुड़े मुद्दे को उठाया जा रहा है। आज के समय में महिलाओं के खिलाफ कई अमानवीय प्रथाएं जैसे कि भ्रूण हत्या के मामले कम हुए हैं। इस तरह के अभियान लोगों की मानसिकता को बदलते हैं और यही आज राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने का आधार भी है।

राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने की शुरुआत

राष्ट्रीय कार्यकर्ता के रुप में 2008 में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने राष्ट्रीय बालिका शिशु दिवस मनाने की शुरुआत की।

इस अभियान के माध्यम से भारतीय समाज में लड़कियों के असमानता को चिह्नित किया गया है। इस दिन, सरकार द्वारा “सेव द गर्ल चाइल्ड” संदेश के साथ और रेडियो स्टेशनों, टीवी, स्थानीय और राष्ट्रीय समाचार पत्रों में विभिन्न विज्ञापन चलाए जाते हैं।

National Girl Child day in Hindi
National Girl Child day in Hindi

आत्मनिर्भर कार्यक्रम

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए भारत सरकार द्वारा कई कार्यक्रम चलाये जा रहे है। महिला को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बालिकाओं की सेहत, पोषण व पढ़ाई जैसी चीज़ों पर ध्यान दिए जाने की ज़रूरत है ताकि बड़ी होकर वे शारीरिक, आर्थिक, मानसिक व भावनात्मक रूप से आत्मनिर्भर व सक्षम बन सकें। 

बालिकाओं को घरेलू हिंसा, दहेज प्रथा, बाल विवाह के प्रति सचेत करने की जरूरत है। उन्हें भी अपने अधिकारों के प्रति जागरूक किया जाना चाहिए। किशोरियों और लड़कियों के कल्याण के लिए सरकार ने ‘समग्र बाल विकास सेवा’, ‘धनलक्ष्मी’ सुकन्या धन योजना जैसी योजनाएं चलाई जा रही हैं। हाल ही में लागू की गई ‘सबला योजना’ किशोरियों के सशक्तिकरण को समर्पित है।

FAQ’s

Q. राष्ट्रीय बालिका शिशु दिवस कब मनाया जाता है?

Ans : 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जाता है।

Q. Raashtreey Baalika Shishu divas kab manaya jata hai?

Ans : Raashtreey Baalika Shishu divas 24 January.

ये भी पढ़ेः-

Uttar Pradesh diwas kab manaya jata hai | Uttar Pradesh Divas 2022

Guru Gobind Singh Jayanti 2022 | गुरु गोविन्द सिंह जयन्ती कब है?

Kavita Bhabhi | कविता भाभी ने दिये ऐसे सीन्स रातों-रातों हुई फेमस

Experienced Content Writer with a demonstrated history of working in the education management industry. Skilled in Analytical Skills, Hindi, Web Content Writing, Strategy, and Training. Strong media and communication professional with a B.sc Maths focused in Communication and Media Studies from Dr. Ram Manohar Lohia Awadh University, Faizabad.

Related Articles

Leave a Reply

Stay Connected

22,342FansLike
3,320FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles